राष्ट्रीय

काटे हाथ-पैर फिर किया सर को धड़ से अलग

अहमदाबाद- मां-बाप ने दिया पूरा साथ पहले छोटे भाई के सिर को धड़ से किया अलग और फिर काट डाले हाथ-पैर। शराब के पैसों की मांग और नशे में रोजाना अपने भाई और माता-पिता से झगड़ता था। 27 जनवरी की रात को भी विवाद हुआ जिसमें बड़े भाई ठाकरशी ने सागर के सिर पर पाइप दे मारा, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी। ऐसे में घबराकर ठाकरशी और माता-पिता ने उसका शव ठिकाने लगाने के लिए ठाकरशी के साले मावजी की भी मदद ली और रात के अंधेरे में कटर से शव के सिर और हाथ-पैर काटकर अलग-अलग फेंक दिए। गुजरात पुलिस ने करीब 7 महीने पहले हुए एक मर्डर की मिस्ट्री को सुलझाने में सफलता पाई है। इस मामले का मुख्य आरोपी मृतक का ही सगा भाई निकला। मर्डर के बाद शव को कटर से काटने और शव को ठिकाने लगाने में उसका साथ खुद माता-पिता और साले ने दिया था। पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। मृतक की पहचान सागर कटोसणा के रूप में हुई है। आपको बता दें कि गुजरात के जिले सुरेंद्रनगर की सायला तहसील के थोरियाली डैम से 7 महीने पहले एक युवक का सिर कटा धड़ मिला था। बाद में अन्य जगहों से सिर और हाथ-पैर मिले थे। गिरफ्तार किए गए आरोपियों से मिली जानकारी के अनुसार एक चैंकाने वाली बात यह भी सामने आई कि हत्या के बाद शव को ठिकाने लगाने के लिए माता-पिता ने बेटे का पूरा साथ दिया। शव के टुकड़े करने के दौरान पूरे कमरे में खून फैल गया था। ऐसे में माता-पिता ने ही पूरा घर साफ किया था। हत्या और शव को ठिकाने लगाने के तीन दिन बाद ही परिवार पुलिस थाने में सागर की गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करवा दी। ऐसे में पुलिस सागर की तलाश में जुट गई। पुलिस को नाम न बताने की शर्त पर एक पड़ोसी ने बताया कि उसने घटना के बाद ठाकरशी के परिवार में रात भर चहल-पहल महसूस की और घबराहट भी देखी थी। लेकिन सागर की गुमशुदगी की बात उसे कुछ दिन बाद पता चली। तब उसने सोचा कि वह शराब के चलते कहीं इधर-उधर चला गया होगा।